याशिका के अकेलेपन का फायदा उठाया

 
loading...

हैल्लो दोस्तों, मेरा नाम अमन है और में पंजाब का रहने वाला हूँ. मेरी उम्र 19 साल है और में दिखने में बहुत अच्छा हूँ और गोरे रंग लम्बे छोड़े बदन की वजह से अधिकतर लड़कियाँ मुझे जरुर देखती है. दोस्तों में भी आप लोगों की तरह पिछले कुछ सालों से कहानियाँ पढ़ता आ रहा हूँ और मुझे ऐसा करना बहुत अच्छा लगता है.

फिर एक दिन मैंने अपनी भी एक अच्छी घटना आप लोगों तक पहुँचने के बारे में बहुत सोच विचार किया और फिर मैंने अपनी सच्ची घटना को आप सभी को सुनाने के बारे में विचार किया और अब में उसी घटना को आप लोगों को ज्यादा बोर ना करते हुए पूरी विस्तार से बताता हूँ.

दोस्तों में नोएडा में एक प्राईवेट कम्पनी में नौकरी करने के लिए गया हुआ था और फिर मैंने वहीं पर अपने रहने के लिए किराये से एक रूम ढूंडा और मुझे बहुत मेहनत करने के बाद एक आखिरकार वो रूम मिला जो कि तीसरी मंजिल पर था और ठीक उसके नीचे वाली मंजिल पर 2 बहनें रहती थी.

दोस्तों वो दोनों ही एकदम टॉप की माल थी, उन दोनों के सेक्सी बदन मुझे हमेशा अपनी तरफ आकर्षित करते थे, उनका वो हंस हंसकर बातें करने का तरीका और वो कातिलाना उभरे हुए एकदम गोल गोल बड़े बूब्स और मटकती हुई गांड को देखकर में उनका पूरी तरह से दीवाना हो चुका था. दोस्तों उनमें से एक का नाम याशी था. में रोज़ उस पर बहुत बार लाईन मारता था और वो भी इस बात को बहुत अच्छी तरह से समझती थी और अब धीरे धीरे हमारी हाय हैल्लो होने लगी और वो मुझे देखकर मुस्कुराने लगी और में उसे देखकर मन ही मन बहुत खुश होने लगा. दोस्तों एक दिन की बात है, में अपने रूम में लेटा हुआ अपने लेपटॉप पर एक पॉर्न फिल्म देख रहा था.

तभी कुछ देर बाद मुझे अपने दरवाज़ा बजने की आवाज सुनाई देने लगी और में तुरंत उठकर खोलने चला गया और जैसे ही मैंने अपना दरवाजा खोलकर देखा तो मेरे सामने याशी खड़ी हुई थी, वो एकदम सेक्सी आईटम लग रही थी और में उसे देखकर बहुत खुश था और फिर मैंने उसे अंदर बुलाया और वो मेरे लेपटॉप पर उस फिल्म को देखकर थोड़ा सा शरमा कर मुझसे बोली कि यह क्या है? और वो अब धीरे से मुस्कुराने लगी और में उसके पास जाकर बैठ गया. तभी वो मुझसे पूछने लगी कि क्या तुम्हारी कोई गर्लफ्रेंड है? तो मैंने तुरंत कहा कि अभी तक तो कोई भी नहीं है. फिर वो कहने लगी कि ऐसा क्यों?

मैंने कहा कि अब तक मुझे तुम्हारे जैसी सुंदर कोई अप्सरा दिखी ही नहीं, तो में क्या करता? अब उसने मेरे मुहं से यह बात सुनकर मेरी तरफ मुस्कुरा दिया और फिर बातों ही बातों में कुछ देर बाद वो मुझसे बोली कि मुझे कुछ जरूरी काम है और मुझे अपने घर पर जाना है. फिर मैंने मन ही मन सोचा कि आज तो मेरा काम अधूरा रह गया, लेकिन मैंने उसका मोबाईल नंबर उससे माँगा तो उसने मुझसे मेरा फोन माँगा और उसने मुझे अपना नंबर मेरे मोबाईल में सेव करके वापस कर दिया और फिर मैंने उसके चले जाने के बाद उसे व्हाटसप पर एक मैसेज किया और फिर हमने रात भर बहुत सारी बातें की.

फिर उसके अगले दिन उसका मेरे पास कॉल आया कि तुम नीचे मेरे रूम में आ जाओ. फिर मैंने तुरंत अपने कमरे को ताला लगा दिया और फिर जल्दी से उसके रूम में पहुँच गया. अंदर जाते ही उसने मुझसे बैठने को कहा और में बैठ गया और अब हम बातें करने लगे. वो मेरे पास बैठ गई और फिर मैंने उसकी बातों से महसूस किया कि वो थोड़ी सी उदास थी. फिर मैंने उससे पूछा कि तुम्हें क्या हुआ और तुम आज इतनी उदास उदास सी क्यों हो? तब वो मुझसे बोली कि आज उसकी और बहन की किसी बात को लेकर लड़ाई हो गई है और अब वो अपने आप को बहुत अकेला सा महसूस कर रही है और अब वो मेरे पास में लेट गई थी, में लगातार उसकी बाहर निकली हुई छाती की तरफ देख रहा था, जिसकी वजह से मेरा लंड पूरा तन गया था.

फिर कुछ देर बाद मैंने याशी से पूछा कि याशी क्या में तुम्हें हग कर सकता हूँ, अगर तुम्हें बुरा ना लगे तो? दोस्तों उसने मुझसे साफ मना कर दिया, लेकिन वो खुद चाहती थी कि में उसे हग करूं, लेकिन ना जाने क्यों किस बात से डरती थी? अब मैंने थोड़ी हिम्मत करके उसके मुलायम गोरे गोरे गाल पर अपना एक हाथ रख दिया और उसको अपनी तरफ खींच लिया और उसको बहुत टाईट हग करने लगा. दोस्तों बस फिर क्या था? वो भी यही चाहती थी, वो अब मेरा साथ देने लगी और मैंने भी तुरंत उसके होंठो पर अपने होंठ रख दिए और उसे एक अच्छी सी किस दी और उसने भी मेरा साथ दिया.

फिर मैंने सही मौका देखकर उसके बूब्स पर अपना एक हाथ रख दिया और में बहुत डर रहा था कि कहीं वो मेरी इस हरकत से गुस्सा ना हो जाए, लेकिन वो तो अपनी दोनों आँखे बंद करके लेटी हुई मेरे साथ मज़े ले रही थी और अब मैंने उसके एक एक कपड़े उतारने शुरू कर दिये और वो अब भी अपनी आँखे बंद करके लेटी रही. अब मैंने उसको उठाकर अपनी बाहों में लेकर उसका टॉप उतार दिया. फिर मैंने देखा कि उसने अपने टॉप के नीचे काले कलर की ब्रा पहनी हुई थी, जो उसकी उस गोरी छाती पर बहुत मस्त लग रही थी.

अब मैंने तुरंत उसकी ब्रा का हुक खोल दिया और उसे फिर से अपनी बाहों का सहारा देकर नीचे लेटा दिया. अब वो अपनी आँखे खोलकर मुझसे बोली कि तुम बहुत शरारती हो, तुमने मेरे साथ यह क्या किया? तुम बहुत गंदे बेशर्म हो, क्या तुम्हें मुझे ऐसे देखकर मज़ा आता है? फिर मैंने कहा कि हाँ मेरी जान, मुझे ऐसा करना बहुत अच्छा लगता है और अब में वो मज़ा तुम्हें भी देना चाहता हूँ, बस तुम एकदम चुपचाप मेरे साथ उस मज़े के मज़े लो और उससे इतना कहकर मैंने उसके गोल मटोल गोरे बूब्स के तने हुए गुलाबी निप्पल पर अपने होंठ रख दिए और फिर उन्हें चूसने लगा और दूसरे बूब्स को सहलाने दबाने लगा.

फिर वो उफ्फ्फ आह्ह्ह्हह्ह माँ ऊउईईई करने लगी और फिर कुछ देर बूब्स से खेलने के बाद जब वो ज़ोर ज़ोर से सिसकियाँ लेने लगी और पूरी तरह से गरम होने लगी तो सही मौका देखकर उसके मना करने के बाद भी जल्दी से बिना समय गंवाए उसकी पेंटी को भी उतार दिया और अब में उसकी पेंटी को अपने हाथ में लेकर उसे सूंघने लगा.

मैंने आज पहली बार ऐसी खुशबू सूँघी थी. फिर मैंने उसकी पेंटी को उससे दूर फेंक दिया और अब मैंने उसकी चूत पर अपने होंठ रख दिए और अपनी जीभ से चूत के दाने को सहलाने लगा. मेरे ऐसा करने की वजह से वो एकदम तड़प उठी और अब वो मेरे सर को अपनी चूत के ऊपर दबाकर ज़ोर ज़ोर से मोन करने लगी और वो मुझसे बोली कि हाँ अमन उफफ्फ्फ्फ़ चूसो और चूसो ऊईईईईईईई आह्ह्ह्ह हाँ अमन मज़ा आ गया और अब वो पूरी तरह से जोश में आकर मेरा सर कुछ ज्यादा ही ज़ोर से अपनी चूत के मुहं पर दबाने लगी. शायद वो आज मुझे अपनी चूत में पूरा अंदर डालकर मुझसे अपनी चूत को चटवाकर साफ करवाना चाहती थी.

फिर मैंने करीब 15 मिनट तक उसकी चूत को चाटा, तब तक वो शायद एक बार झड़ चुकी थी. मैंने उसका सारा गरम चूत रस चाट लिया और अब मेरी बारी थी. फिर उसने मेरी शर्ट को उतार दिया और वो मुझसे बोली कि तुमने अपनी बॉडी तो बहुत अच्छी बनाई है.

फिर उसने मुझे ज़ोर से हग किया और बोली कि आज तुम मेरा सारा अकेलापन दूर कर दो, मेरी प्यासी चूत को अपने लंड से चोद चोदकर आज तुम बिल्कुल शांत कर दो और फिर उसने मुझसे मुस्कुराते हुए कहा कि पहले मुझे अपना हथियार तो दिखावो और मैंने तुरंत अपना अंडरवियर उतार फेंका और सीधा लेट गया. वो मेरा तनकर खड़ा हुआ मोटा और लंबा लंड देखकर एकदम से चौंक गई. फिर वो मुझसे बोली कि इतना बड़ा, मैंने इतना बड़ा कभी नहीं देखा और वो अब मेरा लंड अपने मुहं में लेकर चूसने लगी, मुझे बहुत अच्छा लग रहा था.

फिर करीब 15 मिनट तक वो लगातार मेरा लंड चूसती रही और फिर मैंने उससे कहा कि तुम अब लेट जाओ और फिर उसके लेटने के बाद में तुरंत उसके ऊपर आ गया और मैंने उसके होंठो पर अपने होंठ रख दिए और सही मौका देखकर उसकी प्यासी, कामुक, गीली चूत की गहराईयों में अपना लंड उतार दिया, जिसकी वजह से वो ज़ोर से उछल पड़ी और फिर मैंने महसूस किया कि उसकी चूत बहुत गरम थी और मुझे ऐसा लग रहा था कि जैसे मैंने जलती हुई किसी आग की भट्टी में अपना लंड डाल दिया हो.

अब में लंड को धीरे धीरे आगे पीछे करने लगा था. दोस्तों मेरा लंड बहुत ही आसानी से उसकी गहराईयों में चला गया और कुछ देर बाद उसे मज़ा आने लगा था. फिर मैंने उससे पूछ लिया कि क्या तुमने इससे पहले कभी सेक्स किया है? तो वो मुझसे कहती है कि हाँ मैंने अपने एक बॉयफ्रेंड के साथ बहुत बार सेक्स के मज़े लिए थे, लेकिन वो मुझसे बोली कि उसका तुम्हारे लंड से छोटा था और वो बहुत ही जल्दी झड़ जाता था और वो मुझसे बोली कि में तुम्हे बहुत दिन से देख रही हूँ और मैंने पढ़ा था कि पंजाबी लड़के बहुत अच्छी चुदाई करते है. फिर मैंने तुरंत उससे कहा कि हाँ आज तुम वो चुदाई मेरे साथ करके देख भी लेना और उसके मज़े भी ले लेना.

में अब उसको लगातार ज़ोर ज़ोर से धक्के देकर चोदने लगा और वो ऊह्ह्ह्हह्ह उफफ्फ्फ्फ़ माँ मर गई आहह्ह्ह्ह कर रही थी और अपनी गांड को उठा उठाकर मेरा पूरा पूरा साथ दे रही थी. अब वो मुझसे बोली कि प्लीज थोड़ा और अंदर जाने दो उफफफफ. दोस्तों करीब एक घंटे में वो पांच बार झड़ चुकी थी और वो मुझसे बोली कि में बहुत थक गई हूँ, प्लीज थोड़ा जल्दी जल्दी करो. फिर पूरे 1:30 घंटे की ताबड़तोड़ चुदाई के बाद में झड़ गया और मैंने अपना पूरा वीर्य उसकी चूत में डाल दिया, वो मुझे बहुत खुश दिख रही थी और फिर हम साथ में बाथरूम में जाकर नहाए और फिर शाम को फिल्म देखने चले गये और फिर रात को उसका मेरे पास कॉल आया तो उसने मुझसे कहा कि जल्दी से मेरे रूम में आ जाओ.

फिर में रात के करीब 9 बजे उसके रूम में चला गया और मैंने उसके रूम के अंदर पहुंचते ही उसको हग किया. फिर हम दोनों लेटकर बातें करने लगे और कुछ देर बाद वो मुझसे बोली कि आज सारी रात हमें चुदाई करनी है. फिर मैंने उससे कहा कि नहीं जानेमन तुम थक जाओगी, तो वो बोली कि आज हमारे पास बहुत अच्छा मौका है, क्या पता कल हो ना हो? तो मैंने उसको तुरंत पूरा नंगा किया और रात के करीब दस बजे से उसको चोदना शुरू किया, जब में झड़ने वाला होता तो में तुरंत रुक जाता और इस वजह से में झड़ता नहीं था.

हमें चुदाई करते करते रात के करीब एक बज गए थे, लेकिन मेरी चुदाई अब भी ज़ारी थी और वो थककर बिल्कुल चूर हो गई थी. इस बीच वो बहुत बार झड़ गई थी. अब वो मुझसे कहने लगी कि तुम इंसान हो या जानवर, तुम इतना देर तक कैसे चोद लेते हो? अब वो बहुत कमजोरी महसूस कर रही थी और हिल भी नहीं पा रही थी. फिर मैंने उससे कहा कि पंजाबी लड़को से चुदना कोई आसान काम नहीं है, वो अब लगातार आह्ह्ह्हह्ह उफफ्फ्फ्फ़ आईईईइ हाँ और ज़ोर से चोदो मुझे बड़बड़ा रही थी और में भी उसकी चुदाई का पूरा पूरा मज़ा ले रहा था और फिर में करीब 2 बजे झड़ गया.

अब वो मुझसे बोली कि आज से में तुमसे ही अपनी चुदाई करवाउंगी. फिर वो सोने लगी, लेकिन मैंने उसे सोने नहीं दिया और बात करने लगा, उसके जिस्म से खेलने लगा और फिर कुछ देर बाद मेरा लंड फिर से दोबारा तनकर खड़ा हो गया. मैंने फिर से उसको चोदना शुरू किया और इस बार मैंने उसको घोड़ी बनाकर चोदा और वो अब रो रही थी और मुझसे कह रही थी कि उसका शरीर अब काम नहीं कर रहा है. मैंने उसको घोड़ी बनाकर सुबह 5 बजे तक कुछ देर रुक रुककर चोदा और फिर वो मेरे झड़ने के बाद सो गई और में भी उससे चिपककर सो गया और फिर में सुबह 8 बजे उठा और मैंने तब देखा कि मेरे ऑफिस जाने का टाईम हो गया था.

फिर मैंने उसे सोता हुआ देखकर उसके माथे पर एक किस किया और अपने रूम में आकर नहाकर तैयार हुआ और जब में अपने ऑफिस पहुँचा तो उसका मेरे पास कॉल आया, उसने मुझसे कहा कि क्यों तुमने मुझे उठाया भी नहीं? तो मैंने उससे कहा कि तुम रात भर बहुत थक गई थी, इसलिए में तुम्हें उठाए बिना ही चुपचाप वहां से आ गया. तब वो मुझसे बोली कि कल रात को तुमने मुझे बहुत मज़े दिए और वो बोली कि मुझे बुखार आ गया है. फिर हम सारा दिन व्हाटसप पर चेट करते रहे. उसने मुझे अपनी एक पूरी नंगी फोटो भी भेजी और फिर वो मुझे शाम को मेरे रूम के बाहर मिली और फिर मैंने अपने रूम का दरवाजा खोला और एक बार फिर से हम चुदाई करने लगे और इस तरह हमने बहुत बार चुदाई की.



loading...

और कहानिया

loading...


Online porn video at mobile phone


mam and nokar saxxxxgaov wali bhabhi kihudai viewo khet memaa ki kihni par maa ko choda beta ni sex stores.combibi ne mere land se meri choti bahin ki sil tutbaivasnahindistory majburixxx rat bhiya kahani santosh neबहु को ससुर और नोकर ने मिल के चोदा हिन्दी विडियोjhadne vali chut ki xxx films downloadदोस्त के साथ बहिन की अदला बदली की कहानियांआंतर.वासना.कोमkamukta ma ko dost ne chut chodai ki audio kahanixxx.comhindesixe.comhindi sexy atoryXXX STORY जवान सिल बंद चुतsabnam khala or ammi ki kahanima.byta.drti.hindi.sexstorieschachi.chut.chingari.comहिन्दी में खून निकलने वाले सैकसी विडियो .comमैडम चुत.x nxx com17antar.washna.khanixxx khani grup waalisharika aanti xxx kagniबीबी की बुर की चोदई x.video.raj.godagriSAKAX KAHANEYAchiti bahan ki chodai trsin ma sexy kahanisexkahnaichudai mere room pr neha kinidhi didi ki do logo se gand chudai ki kahaniladki ne kutte se apni choot chatwaihindi sexy sister storybua mastramwww..bhabhi aur devar kaxxxbap ne apni beti ko moka dekh kr choda hot story with pictureladki ko ghode ne choda kahanixxx bae bhn chodae ke khaneWWW.BAPBETI.KAMUKTA.DOT.COMnonvej kute ke sath चुदाई कहानी 2018 इमरान भाई ने अपनी सगी बहन को सेक्सी वीडियो बनायाsexy kahanyan maa bap betahind sex kahaneyaअंकल के लुंड से गर्भवती हुई चूत चुदाई की हिंदी कहानीstory mausi ko choda dam me hindi me xxx image x began hindi kahani ni.ni.mammi.chudixxxhinde sax.khneya.com kamukta.xxx adivashi marathi kalpanik kahaniरानि डाँट कंमकामवाली. की चुदा आई. मोटा लोडा कुते का लंड चूसने की कहानियाsex stoqi chachi ko andhere me chodabahin kichudi kodam lagakarxxx chudai photo hindi kahnikele vala ne chut ko ragdaरिश्तों में चुदाईdad pakana devar sex videoshandi xxx in whaterxxx kahanixxx बीवी यार वीडियोmmmi ki gorp xxx kahaniyhot sex kahani gaav ke chacha ji ne merichoro ne ki meri aur mammy ki chudai ek sath hindi kamukta.commeri Badi behan ne mujhse chut chatwayi videossex cut antrbasnaभाई बहन कि चूदाई की कहानिया मस्तारामmiri didi ki divar ni mujhi choda khani xxxमेरी मजबूरी और चुदाईsex 2050 khani kiraye dar ki beti ki chodaikamukta.combhai bhan ki cudai ki kahni cudai balixxxxchudai stories december ke mahine kisale bhaka bhuk chod bhonsda bana de