मेरी शादी करवा दो

 
loading...

दिल की कोमल उमंगों को भला कोई पार कर सका है, वो तो बस बढ़ती ही जाती हैं। मैंने भी घुमा फिरा कर माँ को अपनी बात बता दी थी कि मेरी अब अब शादी करवा दो।

माँ तो बस यह कह कर टाल देती… बड़ी बेशरम हो गई है… ऐसी भी क्या जल्दी है?

क्या कहती मैं भला, अब जिसकी चूत में खुजली चले उसे ही पता चलता है ना ! मेरी उमर भी अब चौबीस साल की हो रही थी। मैंने बी एड भी कर लिया था और अब मैंने एक प्राईवेट स्कूल में टीचर की नौकरी भी करती थी। मुझे जो वेतन मिलता था… उससे मेरी हाथ-खर्ची चलती थी और फिर शादी के लिये मैं कुछ ना कुछ खरीद ही ही लेती थी। एक धुंधली सी छवि को मैं अपने पति के रूप में देखा करती थी। पर ये धुंधली सी छवि किसकी थी।

पापा ने सामने का एक कमरा मुझे दे दिया था, जो कि उन्होने वास्तव में किराये के लिये बनाया था। उसका एक दरवाजा बाहर भी खुलता था। मेरी साईड की खिड़की मेरे पड़ोसी के कमरे की ओर खुलती थी। जहाँ मेरी सहेली रजनी और उसका पति विवेक रहते थे। शायद मेरे मन में उसके पति विवेक जैसा ही कोई लड़का छवि के रूप में आता था। शायद मेरे आस-पास वो एक ही लड़का था जो मुझे बार बार देखा करता था सो शायद वही मुझे अच्छा लगने लगा था।

कभी कभी मैं देर रात को अपने घर के बाहर का दरवाजा खोल कर बहुत देर तक कुर्सी पर बैठ कर ठण्डी हवा का आनन्द लिया करती थी। कभी कभी तो मैं अपनी शमीज के ऊपर से अनजाने में अपनी चूत को भी धीरे धीरे घिसने लगती थी, परिणाम स्खलन में ही होता था। फिर मैं दरवाजा बन्द करके सोने चली जाती थी। मुझे नहीं पता था कि विवेक अपने कमरे की लाईट बन्द करके ये सब देखा करता था। मेरी सहेली तो दस बजे ही सो जाती थी।

एक बार रात को जैसे ही सोने के लिये जा रही थी कि विवेक के कमरे की बत्ती जल उठी। मेरा ध्यान बरबस ही उस ओर चला गया। वो चड्डी के ऊपर से अपना लण्ड मसलता हुआ बाथरूम की ओर जा रहा था। मैं अपनी अधखुली खिड़की से चिपक कर खड़ी हो गई। बाथरूम से पहले ही उसने चड्डी में से अपना लण्ड बाहर निकाला और उसे हिलाने लगा। यह देख कर मेरे दिल में जैसे सांप लोट गया, मैंने अपनी चूत धीरे से दबा ली। फिर वो बाथरूम में चला गया। पेशाब करके वो बाहर निकला और उसने अपना लण्ड चड्डी से बाहर निकाला और उसे मुठ्ठ जैसा रगड़ा। फिर उसने जोर से अपने लण्ड को दबाया और चड्डी के अन्दर उसे डाल दिया। उसका खड़ा हुआ लण्ड बहुत मुश्किल से चड्डी में समाया था।

मेरे दिल में, दिमाग में उसके लण्ड की एक तस्वीर सी बैठ गई। मुझसे रहा नहीं गया और मैं धीरे से वहीं बैठ गई। मैंने हौले हौले से अपनी चूत को घिसना आरम्भ कर दिया… अपनी एक अंगुली चूत में घुसा भी दी… मेरी आँखें धीरे धीरे बन्द सी हो गई। कुछ देर तक तो मैं मुठ्ठ मारती रही और फिर मेरी चूत से पानी छूट गया। मेरा स्खलन हो गया था। मैं वहीं नीचे जमीन पर आराम से बैठ गई और दोनो घुटनों के मध्य अपना सर रख दिया। कुछ देर बाद मैं उठी और अपने बिस्तर पर आकर सो गई।

सवेरे मैं तैयार हो कर स्कूल के लिये निकली ही थी कि विवेक घर के बाहर अपनी बाईक पर कहीं जाने की तैयारी कर रहा था।

“कामिनी जी ! स्कूल जा रही हैं?”

“जी हाँ ! पर मैं चली जाऊँगी, बस आने वाली है…”

“बस तो रोज ही आती है, आज चलो मैं ही छोड़ आऊँ… प्लीज चलिये ना…”

मेरे दिल में एक हूक सी उठ गई… भला उसे कैसे मना करती? मुस्करा कर मैंने उसे देखा- देखिये, रास्ते में ना छोड़ देना… मजिल तक पहुँचाइएगा !

मैंने द्विअर्थी डायलॉग बोला… मेरे दिल में एक गुदगुदी सी उठी। मैं उसकी बाईक के पास आ गई।

“ये तो अब आप पर है… कहाँ तक साथ देती हैं!”

“लाईन मार रहे हो?”

वो हंस दिया, मुझे भी हंसी आ गई। मैं उछल कर पीछे बैठ गई। उसने बाईक स्टार्ट की और चल पड़ा। रास्ते में उसने बहुत सी शरारतें की। वो बार बार गाड़ी का ब्रेक मार कर मुझे उससे टकराने का मौका देता। मेरे सीने के उभार उसके कठोर पीठ से टकरा जाते। मुझे रोमांच सा हो उठता था। अगली बार जब उसन ब्रेक लगाया तो मैंने अपने सीने के दोनों उभार उसकी पीठ से चिपका दिये।



loading...

और कहानिया

loading...


Online porn video at mobile phone


sexykhaniya2018अनीता चोदाई574susksex story in hindiभोसडी की कहानीsirf.ma.ki.chudai.kahani.ma.kyese.apne.chut.viry.girvati.hai.xxx.hindi.kahanichoodi ki kahaniyakahani chudai ki in hindiमोटी औरत की उल्टी लिटाकर चुदाईantarwasna Meri shilpi di.aur unke jija ki sex love kahaniya hindiसपना चुत और लङ कहनिchudayiki sex kahaniya. indian sex stories com. antarvasna com/tag/page no 77--120--222--372--384Mona bhanji ki chudaiThakur se majduran ki chudai k kahanimastaram in hindibehan ki naghi chut hindi sexn storysexy chachi bhatije basin BF hotpyara sasural sexi storigande khinehindenew hot kahani sirf 1हिनदि सेकश शटोरिraj wap.rohit xxx मराठीmalikan aur us ke baty ko aik sath choda sex story17 saal ki ladki ki Rohini Naam Ki xx bf videoxxx kalpanik rohit sharma hindi kahanideyar bhabhi nahate satme xxx videoa.comहिंदी में रण्डी चुदासी की नंगी कहानी फोटो सहितindian saili blous sari sex moveकहानी लडके लडकी कि पती पत्नी कीbhan ko chodne se hue pragnat khanealata saxe vedeo jabardaste mar leshrika aanti xxx kahni maa na bhabi ki delwaiचुत मे लोडाladki nechut chudbaikahani hindi merajwap sxs stori hndichudae ki khaniyahindisxestroyमाँ ke cadai bada pornAntervasna sitoribur.chodai.ki.kahani.hinedi.meमोटे लनड से चूदाई रो पडी बीडीओchudai ki kahani hindi fontखुशबूदार गांडWidhwa Ki choot chod kar bhosda bana Diya khahani Hindi maiसोसाईटी मे चुदकड़ बीवीया चौकीदार से चुदाsexkahaniMujhe Mujhe chodega bilkul saaf saafhindi sexy stories antarwasnaPurane ladki ka Gili sadi me xxx photoधिरे धिरे चोदsex story behan vidhwa do bhaiyon ne pet bhraxxx chudai ki khaniwww.antarvasnapariwar me chudai ke bhukhe or nange logचूत फाड दी रंडी बना के चोदा ससुर नेचूत सुहागरातसेकसीkahania hot gode ka landpati ka best friend khanixxx hndi storiक्सक्सक्स बाटे पापै स्टोरbahurani and xxx sasur storiesdesi paatn bhen bhai cudai khani audio nawu pronमेरे परिवार की गाव मै सामुहिक चुदाईhot hinde sxya khineyबहुको चोदा पकड़ करjanabar se meri chudai kahaniपरिवार कि औरतो ने प्लेन बनाकर मेरे से चुदीbur ma ka choda kamuktajvan kamini rani ka jabardst sexwww.kahaniboorki.comhindi kamukta story photo nangi comhindi pesab antarvasna storyसेकस पेट के अनंदर दिखने वलाबिडीयोwww.xnxx .com aourat mard se kahati huei chalo mujhe chodowww.xxx.new.hindi.story.ma ne sikhya chodna.comमाँ ने चुत मारते पकड़ाAntervasna sitorierotic short stories hindihindi sex kahneyahindi bap bhai bahan sex khani.comराज शरमा की sexy पुरी कहानीbteje k sath xxx com khanibhabhi ke sath suhagrat ke niwasi kya