उसने मेरी चूत को अब चोद चोदकर भोसड़ा बना दिया

 
loading...

हेल्लो दोस्तों, मेरा नाम कनिका है और में हरयाणा की रहने वाली हूँ। दोस्तों में सेक्सी की बहुत भूखी हूँ, लेकिन एक रंडी नहीं और मेरी यह आज की कहानी मेरी पराए मर्द से पहली चुदाई की एक घटना है। दोस्तों में अब 42 साल की हूँ और संजीव जीजाजी 58 साल के है और मेरे फिगर का साईज 44-40-48 है। मेरी लम्बाई 5 फीट 7 इंच है और संजीव 6 फीट 1 इंच लंबे चौड़ी छाती और थोड़ी मोटे है, लेकिन बहुत अच्छे स्वभाव के है। दोस्तों अब में आप सभी को मेरा पहला सेक्स अनुभव बताती हूँ। यह मेरा सेक्स संजीव से कैसे शुरू हुआ? दोस्तों बात 1996 की है तब में 25 साल की थी। उन दिनों मेरे पति भी आर्मी में थे तभी उनको कुछ बीमारी लग गई और वो बहुत ज्यादा बीमार हो गये और तब ज्यादा मोबाइल नहीं होते थे। तभी मुझे टेलिग्राम से यह मैसेज मिला और में बहुत घबरा गई और मेरी समझ में कुछ नहीं आ रहा था। में बस रो रही थी और सोच रही थी कि कैसे अपने पति के पास उनसे मिलने जाऊँ? क्योंकि सफ़र बहुत लंबा था और अंजान था। उसी टाईम मेरे घर पर अपनी पत्नी के साथ संजीव मतलब मेरे जीजाजी आ गये मुझसे मिलने ( यानी मेरी मुहं बोली बहन के साथ ) तो मुझे रोते देखकर उन्होंने मुझसे पूछा कि क्या बात है तुम रो क्यों रही हो? तो मैंने उनको सब बता दिया।
उस समय संजीव भी आर्मी में थे और वो मुझसे बोले कि इसमें रोने की क्या बात है अगर तुम्हे उससे मिलना है तो चल में तुम्हे वहां पर लेकर चलता हूँ। फिर दीदी ने ही मुझे कुछ सात्वना दी और उन्होंने मेरे घर पर बात करके मेरे भाई को बुला लिया और मेरे भाई ने मेरे साथ जाने के बजाए संजीव को मेरे साथ ले जाने के लिए बोला और मेरे दोनों बच्चों को वो अपने साथ गावं ले गया। फिर उसी रात को संजीव मेरे पास रहे और सुबह हम लोग एक प्राइवेट बस से दिल्ली आ गये और फिर वहाँ हमने ट्रेन में फर्स्ट क्लास में सीट बुक करवा ली और रात को दस बजे हमारी ट्रेन चली और टिकिट चेक होने के बाद संजीव ने दरवाजा बंद करके मुझे ऊपर सुला दिया और खुद नीचे सो गये और बस यही सफर मेरे लिए पहली पराए मर्द से सेक्स की वजह बन गया। रात को मुझे नींद नहीं आ रही थी और संजीव सो गये थे। शायद वो सोने का नाटक कर रहे थे।
तभी में बाथरूम जाने के लिए नीचे उतरी तो मैंने देख कि संजीव का लंड एकदम तना हुआ है और खंबे की तरह खड़ा है। में उनका लंड देखकर एकदम हैरान हो गई और मन ही मन सोचने लगी कि इतना बड़ा लंड आदमी का कैसे हो सकता है? मैंने बहुत बार चाहा लेकिन मेरी नज़र संजीव के लंड पर से हट ही नहीं रही थी। उनके लंड को बेड शीट के नीचे से देखकर ही मेरी चूत गीली हो रही थी, लेकिन अब तक में किसी पराए मर्द से चुदी नहीं थी तो इसलिए में आगे नहीं बड़ पा रही थी और फिर जैसे तैसे करके में बाथरूम में चली गई और जब में वहां से वापस आई तो मैंने देखा कि उनका लंड अब भी वैसे ही तना हुआ है और अब में बहुत डरते डरते हुए उनकी सीट पर बैठ गई और बहुत हिम्मत करके उनकी आँखों में आंखे डालकर देखने लगी कि तभी वो मुझसे बोले..
संजीव : क्यों कनिका नींद नहीं आ रही क्या? वो मेरे उनके पास बैठते ही बोले।
में : जी हाँ, मुझे नींद नहीं आ रही, थोड़ा डर लग रहा है, लेकिन दोस्तों पता नहीं उनकी क्या हालत होगी?
फिर संजीव मेरा हाथ पकड़ते हुए बोले कि डर लग रहा है तो एक काम करो थोड़ा पानी पी लो, मैंने थोड़ा पानी पिया और उसी बीच मैंने महसूस किया कि वो मुझसे थोड़ा और सटकर बैठ गए और फिर हम कुछ इधर उधर की बातें करने लगे। दोस्तों तब मैंने महसूस किया कि संजीव ने अपना लंड मेरी गांड से बिल्कुल सटा रखा था और मुझे अच्छा भी लग रहा था, लेकिन में उनसे कुछ कह नहीं पा रही थी। तभी इतने में एक स्टेशन आ गया। वहाँ पर संजीव ने दो कप चाय ली और फिर हमने चाय पी और उस समय रात के करीब दो बज रहे थे। फिर चाय पीने के बाद संजीव ने मुझसे कसम देकर पूछा कि कनिका क्या तू मुझे एक बात सच सच बताएगी?
में : हाँ अगर मुझे पता है तो में आपको जरुर बताउंगी।
संजीव : तू अभी कुछ देर पहले क्या देख रही थी? क्यों तुझे अच्छा लगा क्या? सच बोलना प्लीज़ अगर तुझे अच्छा लगा तो में तुझे और भी मज़ा दूँगा और अगर नहीं लगा तो में कुछ नहीं कहूँगा?
दोस्तों यह बात कहकर संजीव ने मेरा एक हाथ अपने हाथों में लेकर ज़ोर से दबा दिया और थोड़ा मुस्कुराते हुए मेरी तरफ देखने लगे। फिर जैसे तैसे करके मैंने कहा कि हाँ मुझे अच्छा लगा तो बस फिर क्या था संजीव मेरे ऊपर लट्टू हो गये? और अब उन्होंने मुझे अपनी गोदी में कैच कर लिया। फिर में एकदम से उनके ऐसा करने से बहुत आश्चर्यचकित हो गई क्योंकि वो मुझे अपनी छाती पर ज़ोर से दबाने लगे और जिसकी वजह से मेरी छाती उनकी छाती से दब रही थी और मुझमें एक अजीब सा अहसास ला रही थी और मेरे बदन पर उनकी पकड़ बहुत मजबूत थी और अब संजीव मेरे बूब्स को दबाने लगे और मेरी चूत को मसलने लगे और मेरे कपड़े उतारने लगे और फिर वो खुद भी नंगे हो गये और अब उनका लंबा, मोटा, तना हुआ लंड मेरी आँखों के सामने उछल रहा था। फिर उन्होंने मुझे अपनी बाहों में लेकर अब सीट पर लेटा दिया और फिर मेरी चूत को चाटने लगे। दोस्तों वैसे तो मेरे पति ने भी मेरी चूत बहुत बार चाटी थी, लेकिन आज मुझे चूत चटवाने का असली मज़ा संजीव से आया। मैंने उनके कुछ देर चाटने के बाद पानी छोड़ दिया और तब संजीव ने मुझसे अपना लंड चुसवाया और में उनके लंड का टोपा अंदर बाहर करके उनका लंड चूस रही थी। मुझे उनका लंड पूरा मुहं में लेने में दिक्कत हो रही थी क्योंकि उनका लंड बहुत मोटा था। वो बहुत मुश्किल से मेरे मुहं के अंदर जा रहा था, लेकिन उतनी ही आसानी से मेरे हलक में पहुंच रहा था और ज्यादा लंबा होने की वजह से मुझे सांस लेने में दिक्कत हो रही थी और मेरी आँखों से आंसू बाहर आने लगे थे।
फिर करीब कोई दो पांच मिनट लंड को चूसने के बाद संजीव ने मुझको खिड़की के सहारे घोड़ी बना दिया और अब एक बार मेरी चूत चाटकर एक ही ज़ोर के धक्के में अपना पूरा का पूरा लंड मेरी चूत में डाल दिया और अब में दर्द होने की वजह से बहुत ज़ोर से चीखने चिल्लाने लगी थी और अपनी चूत को आगे की तरफ करके लंड को बाहर निकालने की नाकाम कोशिश करने लगी, लेकिन संजीव की मजबूत पकड़ और मेरी चूत में फंसे हुए लंड से में थोड़ा भी आगे नहीं बढ़ सकी और अब वो मोटा और सख्त लंड मेरी चूत में लगातार आगे पीछे होने लगा था, लेकिन अब जल्दी ही मुझे भी बहुत मज़ा आने लगा और में सिसकियाँ लेने लगी उफफफफ्फ़ अहाह्ह्ह्हह्ह हाँ और ज़ोर से चोदो जीजू उुईईईईईईइ माँ मेरी चूत को और ज़ोर से मारो अहह्ह्हह्ह्ह्ह संजीव में गई। फिर कुछ देर की चुदाई के बाद संजीव ने मेरी चूत में अपना वीर्य डाल दिया और फिर वो कुछ देर वैसे ही मेरी चूत में अपना लंड रखकर रुक गया और उसके कुछ देर बाद संजीव ने मेरी चूत से अपना लंड बाहर निकाला और मेरी चूत को साफ किया और अपना लंड भी साफ किया। फिर हम दोनों एक ही सीट पर पूरे नंगे बैठकर एक दूसरे की बाहों में आकर प्यार करने लगे और चूमने चाटने लगे। फिर उस पूरी रात को दूसरी सुबह तक हमने करीब तीन बार जमकर सेक्स किया। मुझे उसकी चुदाई में बहुत मज़ा आया और फिर में अपने कपड़े पहनकर बहुत थककर गहरी नींद में सो गई, लेकिन संजीव नहीं सोए और दोपहर को जब में नींद से उठी तो मैंने देखा कि ट्रेन एक स्टेशन पर खड़ी हुई थी और संजीव ने खाना मँगवाया और ख़ाना खाकर हम दोनों फिर से सो गये। उस रात को फिर से एक बार मेरी उस ट्रेन में बहुत जमकर चुदाई हुई और इस तरह से में संजीव से चुदते हुए अपने पति के पास पहुँच गई और वहां से वापसी में भी हमने दो बार बहुत मस्त चुदाई की और उसके बाद जब तक मेरे पति जॉब पर रहे में कभी उनके साथ नहीं गई, में बस छुट्टियों में ही उनसे चुदवाती और बच्चों की पढ़ाई का बहान करके में उनकी गैरमोजूदगी में संजीव से बहुत मस्त चुदवाती रही और बहुत बार संजीव ने मुझे अपने फार्म हाउस में भी अपने साथ ले जाकर वहां पर चोदा है और मैंने उसकी चुदाई के बहुत मज़े लिए और हर कभी कोई अच्छा मौका देखकर उससे चुदवाती रही और एक बार बरसात में भीगते हुए भी संजीव से मेरी चुदाई हुई। उसने मेरी चूत को अब चोद चोदकर पूरी तरह से भोसड़ा बना दिया।



loading...

और कहानिया

loading...
One Comment
  1. April 1, 2017 |

Online porn video at mobile phone


saxxy khaniyasaxe store saxe khinejabardsti chudai story ND kahaniya written in punjabinew xxx video khoon nikal rahedidi ke sath honeymoon mana ke pragnent kar diya sex storyantysexystoryhindiनयाचूतSEXI KAHANI COM...बहन की चुदाई व शादिMA KA GRUP SEX JANGAL ME DAD KE SAT KAHANEबीवी की बुर में छोडोXxxx vedeoboltexxxhinde indien tin girlesbajaaran.ki.chodaaeराजा और रानी की सेक्स कहानी गुप में हिंदीzabardasti chudai ki kahaaniwww sakasee hot kahni hade com,cudae kesay krtay haysexy bhu ke cudai sasur se Hindi story tuition papa ka parosi se sex storiantarvasna rape behengoogle hundisex storywww.didi ki sexi bur ki photonindme coddeyaगर्ल्स का बुर एंड बॉयस का बुर दोनों का सता हुआtrain me chudaya pankaj se xxx storyjiji ne 15 sal ke bhai se chudai karai ki kahanisex chut ka photoXXX पापा ने सोचा भी मेरी च** में ल** डाल दियाKutte se chudai ki kahani hindiचुदाई dhoaदैवर.भाभीसेकसी.हीदीमेलड़को ने जबरदस्ती चुदाई की gag marna ka hindi khanesix video story hindehindi sex choti dcomsex story jabardasti kita gangbang thori seelxxx hindi vaishali storydaijest antrwasnaचोदन डौट कॉमdede ka boobs peya sex khane hinde xxx kahani fingering hindiबहन कि चुत सिल तोडी घर मे चूची हिन्हीहिन्दी चुदाई कहनी गरीब औरतsexkahanixxx cg wife sexy eaxchange stroyhinidi sex comhinde xxx khanhya aantiaanqti ka xxx kahani mp3क्सक्सक्सकं इंडियालङकी के साथ जानवर sex stories in hindiमसतराम ङाटsexikhaniyamastramwww.kahaniboorki.comkamukta story VIP hindu bhabhi ke sath muslim pathan lund se chudai ke nange phothoनाटकxxx hindifontxxx.3g.vidios.jaberdati.rap.sal.15.pehalibarwww.kamukta.comhindi sex stories/chudayiki sex stories/tag/bktrade.ru/page no 69 tn 320lami chodi aurat ki chut ka porn video लडका गाड मारया sex video HD .comछोटी सी भोसी मे लम्बा लन्ड़ xxx videodar ke mare chud gaiहिंदी सेक्सी स्टोरी मेरे बेटे यह मेरीwwwantarvasnasex.combariesh m xxx story hindixxx gandi cudai seel band kahnisaas damad chudaixxx hindi stories 2018majboor bhabi fucl pageaantarvasna storeimujhe akela pa kr mera balatkar kiaपति ने देवर से छुड़वाएsoteli ma ke boobs se dudh piya aur sadi kiya hot sexy kahaniफोजी की बिबी की सिक्सी कहानी हिंदी मी